जानू शीर्षासन : चिन्तामुक्ति और पेट को टोन करें जानिये इस योग के लाभ और विधि

यह आसन दो आसनों का संयोग है । संस्कृत में घुटने को जानू कहते है और सिर को झुकाने क़ी और घुटने से लगाये क्रिया जानू शीर्षासन कहलाती है । ये क्रिया बैठकर क़ी जाती है । जानु शीर्षासन अष्टांग योगासन...

सोराइसिस क्या है व इलेक्ट्रो होम्योपैथी मेडिसिन से उपचार

सोरायसिस स्किन से जुड़ी एक ऑटोइम्यून डिसीज है, जो किसी भी उम्र में हो सकती है। इस बीमारी में त्वचा पर एक लाल रंग की मोटी परत बन जाती है, जो चकत्ते की तरह दिखती है। इन चकत्तों में खुजली के...

जानिए पित्त की पथरी क्या है व इलेक्ट्रो होम्योपैथी मेडिसिन से उपचार

पित्ताशय हमारे पाचन तंत्र का महत्वपूर्ण हिस्सा है! जो लीवर और छोटी आँत के बीच में एक पुल का काम करता है ! जब पित्त में उपस्थित कोलेस्ट्रॉल , बिलरुबिन जैसे पदार्थ पित्ताशय में एकत्रित होने लगते हैं , तो मिलकर...

शीघ्रपतन क्या है व इलेक्ट्रो होमेओपेथी से उपचार

शीघ्रपतन एक पूरी तरह से सामान्य स्थिति है जिसमें अनियंत्रित स्खलन या शीघ्र स्खलन का मतलब है कि स्खलन प्रवेश से पहले या प्रवेश होने के तुरंत बाद होता है। शीघ्रपतन आपको निराश और आपके साथी को असंतुष्ट छोड़ सकता है,...

सर्वाइकल पैन क्या है व इलेक्ट्रो होम्योपैथी से उपचार

सर्वाइकल पेन गर्दन में होने वाला दर्द या सूजन है और जिसे ठीक करने के लिए लोग तरह-तरह के व्यायाम, योगा इत्यादि करते हैं। यदि समय रहते सर्वाइकल का इलाज न हो तो यह गंभीर हो सकता है, इसलिए लोगों को...

पपीता खाने के फायदे तथा किन किन रोगों में लाभदायक सिद्ध होता हैं

पपीता आसानी से हजम होने वाला फल है। पपीता भूख व शक्ति को बढ़ाता है। यह प्लीहा (तिल्ली), यकृत (लीवर), पांडु (पीलिया)आदि रोग को समाप्त करता है। पेट के रोगों को दूर करने के लिए पपीते का सेवन करना लाभकारी होता...