मल्टीग्रेन आटे में छिपा है सेहत का खजाना घर पर कैसे करें तैयार,

रोज़ाना मल्टीग्रेन रोटियां खाने से आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है और मौसमी बीमारियों की चपेट में आने से आप बचते हैं। साथ ही मल्टीग्रेन रोटियां शरीर में फैट जमा होने नहीं देती, जिसकी वजह से रक्तचाप और मोटापे से परेशान लोगों को फायदा होता है

इस तरह मल्टीग्रेन रोटियां आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद मानी जाती है

मल्टीग्रेन आटा या उससे बने व्यंजन आपके शरीर में एक कई तरह के पोषक तत्वों की एक साथ पूर्ति करते हैं, जबकि सामान्य आटे में आपको सीमित पोषण ही मिल पाता है

इसका प्रयोग करने से शरीर को भरपूर मात्रा में फाइबर मिलता है जो आपके पाचन तंत्र को बेहतर कार्य करने में मदद करता है और कब्ज की समस्या नहीं होती

शरीर को फाइबर अधिक मिलने पर यह वजन कम करने और मोटापा घटाने में भी बेहद सहायक होता है और जिससे आप जल्दी दुबले हो सकते हैं।

मल्टीग्रेन आटे में छिपा है सेहत का खजाना घर पर करें तैयार

.अगर आप मोटापे से परेशान है, तो इस प्रकार से अपने लिए मल्टीग्रेन आटा तैयार करें – पांच किलो गेहूं में एक किलो चना, एक किलो जौ, 250 ग्राम अलसी और 50 ग्राम मेथीदाना मिलाकर पिसवाएं।

  • अगर आप दुबलापन से निजात चाहते है, तो इस प्रकार से मल्टीग्रेन आटा तैयार करें – पांच किलो गेहूं में एक किलो चना, एक किलो जौ, 500 ग्राम सोयाबीन, एक किलो चावल का आटा डाल कर पिसवाएं। इस आटे के इस्तेमाल से आपको वजन बढ़ाने में मदद मिलेगी।
  • अगर आपको कब्ज की शिकायत रहती हो तो इस प्रकार से मल्टीग्रेन आटा तैयार करें – पांच किलो गेहूं में एक किलो चना, आधा किलो मक्का, एक किलो जौ और 250 ग्राम अलसी पिसवाएं। इससे कब्ज से मुक्ति पाने में आपको मदद मिलेगी।
  • जिन्हें डायबिटीज हैं वे इस प्रकार से मल्टीग्रेन आटा तैयार करें – पांच किलो गेहूं में डेढ़ किलो चना, 500 ग्राम जौ, 50 ग्राम मेथी, 50 ग्राम दालचीनी डालकर पिसवाएं।
  • घर में बढ़ते बच्चे हो, तो उनके लिए इस प्रकार से मल्टीग्रेन आटा तैयार करें – पांच किलो गेहूं में 250 ग्राम सोयाबीन, एक किलो चना और 500 ग्राम जौ मिलाकर पिसवाएं। इससे बच्चों की अच्छी ग्रोथ होगी।

मल्टीग्रेन कई पोषक तत्वों की आपूर्ति करता है जिससे आपकी प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा होता है और बीमारियां आपसे दूरी बनाए रखती हैं

साथ ही इन बातों का ध्यान रखें


आटे को थोड़ा मोटा पिसवाएं


आटे का इस्तेमाल चोकर के साथ करें


आटे को एक साथ ज्यादा मात्रा में पिसवाकर न रखें


एक बार में एख हफ्ते के लिए आटा पिसवाना काफी है

Add a Comment

Your email address will not be published.